• मोटापा कम करने में मददगार है दालचीनी! जाने अंदर की बात

  • किचन में छिपा है मोटापे का समाधान
    अगर आप अपने मोटापे से परेशान हैं और हर तरह की एक्सर्साइज, जिम ट्रेनिंग सबकुछ करने के बाद भी कोई खास फायदा नहीं हो रहा तो आपके किचन में छिपा है मोटापे को कम करने का समाधान।

    सेहत के लिए लाभदायक है दालचीनी
    भारत के ज्यादातर घरों के किचन में आमतौर पर पाया जाने वाला मसाला दालचीनी अप्रत्याशित रूप से आपके सेहत के लिए लाभदायक है। हर दिन करीब 3 ग्राम दालचीनी पाउडर का सेवन करने से न सिर्फ आपका मोटापा कम होगा बल्कि मेटाबॉलिज़म से जुड़ी बीमारियां भी नियंत्रित रहेंगी। भारतीयों पर की गई यह अपनी तरह की पहली रिसर्च है जिसे इंटरनैशनल जर्नल लिपिड्स इन हेल्थ ऐंड डिजीज में प्रकाशित किया गया।

    खानपान में दालचीनी को करें शामिल
    नई दिल्ली के फॉर्टिस डायबीटीज ओबिसिटी ऐंड कलेस्ट्रॉल फाउंडेशन की ओर से किए गए क्लिनिकल ट्रायल में यह बात सामने आयी कि भारतीयों के खानपान में अगर दालचीनी को शामिल कर दिया जाए तो मल्टिपल मेटाबॉलिक प्रॉब्लम जिससे बेहद कम उम्र में डायबीटीज होने का खतरा रहता है उसके प्रभाव को कम किया जा सकता है।

    क्लिनिकल ट्रायल में 116 लोग हुए शामिल
    इस ट्रायल में 116 महिलाओं और पुरुषों को शामिल किया गया था जो मोटापा खासतौर पर पेट के आसपास की चर्बी, ग्लूकोज सहनशीलता के बिगड़ते स्तर, ट्राइग्लिसराइड के बढ़े हुए स्तर और हाइपरटेंशन से पीड़ित थे।

    हर दिन 3 ग्राम दालचीनी का करें सेवन
    जिन लोगों ने 16 हफ्ते तक हर दिन 3 ग्राम दालचीनी पाउडर का सेवन किया उनके औसत वजन में 4 किलोग्राम की कमी 89 से 85 किलोग्राम हो गया। तो वहीं जिन लोगों को दालचीनी नहीं दिया गया उनके वजन में सिर्फ 1 किलोग्राम की कमी 82 से 81 हुआ। डायट में बदलाव करने के साथ ही ट्रायल में शामिल लोगों को हर दिन 45 मिनट के लिए ब्रिस्क वॉक भी करवाया गया।

    कई और बीमारियों में लाभदायक
    शोधकर्ताओं का कहना है कि डायट में दालचीनी पाउडर शामिल करने के साथ ही शारीरिक व्यायाम करने से ब्लड ग्लूकोज, ग्लाइकोस्लेटेड हीमॉग्लोबिन, कमर का दायरा और बॉडी मास इंडेक्स में कमी आती है।

    मेटाबॉलिजम को बैलेंस करता है दालचीनी
    इस रिसर्च के जरिए आशाजनक नतीजे मिले हैं जो इस बात को साबित करते हैं कि बेहद सामान्य भोज्य पदार्थ से भी हमारी सेहत को काफी फायदा हो सकता है। दालचीनी एक सामान्य मसाला है जो भारतीय खानपान में आमतौर पर काफी इस्तेमाल किया जाता है। लिहाजा इसे बड़ी आसानी से अपनी डायट में शामिल कर मेटाबॉलिजम को बैलेंस कर सकते हैं।

  •  







  • Popular